ALL Event Social Knowledge Career Religion Sports Politics video Astrology Article
4600 लोगों को मारने वाले कोरोना वायरस के लक्षण क्या हैं?
March 14, 2020 • अरुण भोपाळे • Knowledge

 नई दिल्ली। चीन के वुहान से शुरू हुआ कोरोना वायरस (Coronavirus disease - COVID-19) 122 देशों में पहुंच गया है.इसके संक्रमण से मरने वाले लोगों की संख्या 4600 को पार कर गई है. 

☞"विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) ने इसे महामारी घोषित कर दिया है. दुनिया भर की सरकारें कोरोना वायरस को लेकर लोगों को जागरूक करने पर ध्यान दे रही हैं. 

☞"जानकारों का कहना है इसके संक्रमण को फैलने से रोककर ही इसे काबू में किया जा सकता है. इसके लक्षणों को पहचानकर ही कोरोना वायरस की बेहतर तरीके से रोकथाम की जा सकती है.

☞"भारत में संक्रमण के 73 मामले
भारत में भी कोरोना से संक्रमण के 73 मामलों की पुष्टि हो चुकी है. 

☞"कोरोना ने अब तक 12 राज्यों को अपनी चपेट में ले लिया है. सबसे ज्यादा कोरोना के मामले केरल में आए हैं. यहां 17 लोगों में कोरोना के लक्षण पाए गए हैं. 

☞"इसके बाद में महाराष्ट्र में 11 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है. यूपी में भी 10 कोरोना के मामले आए हैं. दिल्ली में 6 लोगों में कोरोना वायरस के लक्षण मिले हैं

☞"कोरोना का असर दुनियाभर के शेयर बाजारों पर दिख रहा है. भारत सहित कई देशों के शेयर बाजार में बड़ी गिरावट आई है.

☞"कोरोना से दुनिया भर में अब तक 4600 लोगों की मौत हो चुकी हैं.

☞"ईरान में अब तक कोरोना से 92 और दक्षिण कोरिया में 32 लोगों की मौत हो चुकी है.

☞"सियेटल में फेसबुक के एक इम्पलॉई में कोविड 19 का संक्रमण पाया गया है.
सिर्फ इटली में ही अब तक कोरोना से 366 लोगों की मौत हो गयी है

☞"चीन के हुबेई प्रांत में अब तक कोरोना से प्रभावित लोगों की संख्या 88,466 हो गयी है.

☞"चीन के हुबेई प्रांत में अब तक कोरोना से मरने वाले लोगों की संख्या 3200 हो गयी है.

☞"दुनिया भर में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 1,26,000 के पार चली गयी है.

☞"कोरोना को काबू में करना बड़ी चुनौती, स्वास्थ्य अधिकारियों के लिए इसे फैलने से रोकना एक बड़ी चुनौती बन गई है.

☞"हालांकि, चीन इसे रोकने के लिए हर मुमकिन कोशिश कर रहा है. वहां नए मामलों की संख्या घटी है. वहीं 122 देशों में कोरोना वायरस के केस मिलने के बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी WHO ने इसे महामारी घोषित किया है. 

☞"WHO की तरफ से एक एडवाइडरी भी जारी की गई है, जिसमें बीमारी के लक्षण पहचानने और उसकी रोकथाम के उपायों के बारे में जानकारी दी गई है.

✅️"122 देशों में पहुंचा यह वायरस

चीन से बाहर 122 देशों में कोरोना वायरस के मामलों की पुष्टि हुई है. इन देशों में थाईलैंड, ईरान, इटली, जापान, सिंगापुर, दक्षिण कोरिया, ऑस्ट्रेलिया, मलेशिया, अमेरिका, फ्रांस, जर्मनी और संयुक्त अरब अमीरात शामिल हैं. आइए जानते हैं कि इस वायरस के लक्षण और बचाव के तरीके क्या हैं.

✅️"क्या है कोरोना वायरस?

कोरोना वायरस का संबंध वायरस के ऐसे परिवार से है, जिसके संक्रमण से जुकाम से लेकर सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्या हो सकती है. इस वायरस को पहले कभी नहीं देखा गया है. इस वायरस का संक्रमण दिसंबर में चीन के वुहान में शुरू हुआ था. डब्लूएचओ के मुताबिक, बुखार, खांसी, सांस लेने में तकलीफ इसके लक्षण हैं. अब तक इस वायरस को फैलने से रोकने वाला कोई टीका नहीं बना है.

✅️"क्या हैं इस बीमारी के लक्षण?

इसके लक्षण फ्लू से मिलते-जुलते हैं. संक्रमण के फलस्वरूप बुखार, जुकाम, सांस लेने में तकलीफ, नाक बहना और गले में खराश जैसी समस्या उत्पन्न होती हैं. यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है. इसलिए इसे लेकर बहुत सावधानी बरती जा रही है. कुछ मामलों में कोरोना वायरस घातक भी हो सकता है. खास तौर पर अधिक उम्र के लोग और जिन्हें पहले से अस्थमा, डायबिटीज़ और हार्ट की बीमारी है.

✅️"क्या हैं इससे बचाव के उपाय?

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कोरोना वायरस से बचने के लिए दिशानिर्देश जारी किए हैं. इनके मुताबिक, हाथों को साबुन से धोना चाहिए. अल्‍कोहल आधारित हैंड रब का इस्‍तेमाल भी किया जा सकता है. खांसते और छीकते समय नाक और मुंह रूमाल या टिश्‍यू पेपर से ढककर रखें. जिन व्‍यक्तियों में कोल्‍ड और फ्लू के लक्षण हों उनसे दूरी बनाकर रखें. अंडे और मांस के सेवन से बचें. जंगली जानवरों के संपर्क में आने से बचें.

✅️"विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के सात स्टेप्स

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने सात आसान स्टेप्स बताए हैं, जिनकी मदद से कोरोना वायरस को फैलने से रोका जा सकता है और खुद भी इसके इंफेक्शन से बचा जा सकता है.

🔴"ध्यान रखिये...इन बातों को...✍️

☞"कम से कम 20 सेकंड के लिए साबुन और पानी से हाथ धोएं, खासकर बाथरूम जाने के बाद; खाने से पहले और अपनी नाक बहने के बाद, खाँसने, या छींकने के बाद अक्सर।

☞"यदि साबुन और पानी आसानी से उपलब्ध नहीं हैं, तो अल्कोहल-आधारित हैंड सैनिटाइज़र का उपयोग करें जिसमें कम से कम 60% अल्कोहल हो। यदि हाथ स्पष्ट रूप से गंदे हैं तो साबुन और पानी से हमेशा हाथ धोएं।"

☞"सीडीसी, एनएचएस, और डब्ल्यूएचओ भी व्यक्तियों को सलाह देते हैं कि वे बिना धोये हुए हाथों से आंखों, नाक या मुंह को छूने से बचें।

☞"चेहरे और नाक को ढंकने के लिए मास्क को सावधानी से लगाएं और चेहरे और मास्क के बीच किसी भी अंतराल को कम करने के लिए सुरक्षित रूप से टाई करें उपयोग करते समय, मास्क को छूने से बचें

☞"उपयुक्त तकनीक का उपयोग करके मुखौटा निकालें (यानी सामने से न छूएं लेकिन पीछे से फीता हटा दें

☞"मास्क के हटाने के बाद या जब भी आप अनजाने में इस्तेमाल किए गए मास्क को छूते हैं, तो अल्कोहल-आधारित हैंड सैनिटॉयज़र या साबुन और पानी (उबला हुआ) से हाथों को साफ करें।
जैसे ही मास्क नम हो जाते हैं, मास्क को बदल कर नए साफ, सूखे मास्क लगायें

☞"एकल-उपयोग मास्क का फिर से उपयोग न करें प्रत्येक उपयोग के बाद एकल-उपयोग मास्क को हटा दें

☞"अपने हाथों को साफ रखें।बार-बार धोने के लिए सैनेटाइजर और एंटी बैक्टीरियल साबुन का इस्तेमाल करें।इससे आपके हाथों में कीटाणुओं का नामो-निशान भी नहीं रहेगा।

☞"बातचीत करते हुए दूरी रखें 
यह बात कुछ अजीब लग सकती है लेकिन वायरस के खतरे को देखते हुए प्रैक्टिकली इस बात को ध्यान में रखना होगा।ऐसे में जिस व्यक्ति को खांसी या छींक आ रही हो, उससे कम से कम तीन फीट की दूरी रखें। इसका कारण यह है कि छींक या खांसते हुए मुंह से थूक निकलता है जिसमें कुछ वायरस हो सकते हैं।ऐसे में आपको पास रहने पर COVID-19 का खतरा हो सकता है।

☞"अपनी आंखों, मुंह और नाक को छूने से बचें, हाथों को बार-बार आंख, मुंह, नाक पर न लगाएं।ऐसा करने से आपके हाथों से वायरस इन अंगों तक पहुंच सकते हैं।ऐसे में हाथ तो आप बार-बार धो सकते हैं लेकिन आंख, नाक, मुंह न धोने पर इनपर वायरस का खतरा बना रहेगा।

☞"सांस लेते हुए साफ-सफाई रखें 
आप जब भी खांसे या छींक मारें, अपने मुंह और नाक को टिश्यू से ढककर साफ करें और फिर इसे डस्टबिन में फेंक दें।