ALL Event Social Knowledge Career Religion Sports Politics video Astrology Article
अशासकीय शाला प्रतिनिधि संगठन उज्जैन ने शिक्षा मंत्री को ज्ञापन सौंपा
October 16, 2019 • अरुण भोपाळे

उज्जैन। अशासकीय शाला प्रतिनिधि संगठन उज्जैन ने शिक्षा मंत्री डॉ. प्रभुलाल चौधरी को सर्किट हाउस पर मुलाकात कर विद्यालयों की समस्याओं को लेकर एक ज्ञापन सौंपा। संगठन पदाधिकारियों ने उन्हें इस दौरान श्री महाकालेश्वर भगवान की तस्वीर भी भेंट की।
संगठन के कार्यकारी अध्यक्ष एवं मीडिया प्रभारी भारतसिंह चौधरी ने बताया कि जिला संयोजक श्री मनीष भारद्वाज, शहर अध्यक्ष जितेन्द्र शिंदे एवं प्रदेश सचिव विक्रमसिंह राठौर के नेतृत्व में अशासकीय विद्यालयों के संचालकों ने शिक्षा मंत्री से मुलाकात की और ज्ञापन सौंपा। इसमें मांग की गई कि कलेक्टर गाइड लाइन अनुसार पंजीगत किरायानामा के स्थान पर पूर्वानुसार नोटरी द्वारा शपथ पत्र पर किरायानामा मान्य किया जाए। मान्यता नवीनीकरण हेतु हाईस्कूल के लिए ४२०० वर्ग फीट तथा हायर सेकंडरी स्कूल के लिए ५६०० वर्गफीट क्षेत्रफल भूखंड की बाध्यता समाप्त की जाए। मान्यता का नवीनीकरण पूर्वानुसार 5 वर्ष से 10 वर्ष तक के लिए किया जाए एवं आरटीई शुल्क प्रतिपूर्ति प्रत्येक वर्ष में दो बार समय पर की जाए। इस पर शिक्षामंत्री डॉ. चौधरी ने समस्याओं के निराकरण एवं सहयोग का आश्वासन दिया। इस अवसर पर महेन्द्र पाटीदार, अमित मेहता, जितेन्द्र निगम, महेश जायसवाल, मनीष रावल, प्रदीप पांडे, राजेन्द्र शर्मा, महेश भट्ट, विनोद पाराशर, उदयन पारीख, सुश्री अनिता बागरवाल, प्रदीपसिंह गौड़, श्री मकवाना, श्री परिहार सहित सैकड़ों विद्यालय संचालक इस अवसर पर उपस्थित थे।