ALL Event Social Knowledge Career Religion Sports Politics video Astrology Article
देश के सर्वाधिक सक्रिय 75 व्यंग्यकारों के संकलन 'अब तक 75' का प्रकाशन होगा
July 10, 2020 • अरुण भोपाळे • Event
उज्जैन के पाँच व्यंग्यकार सम्मिलित हैं संकलन में
उज्जैन। देश के सर्वाधिक सक्रिय प्रमुख व्यंग्यकारों का संकलन 'अब तक 75' का प्रकाशन राष्ट्रीय स्तर पर होने जा रहा है, जिसमें देश के व्यंग्यकारों की कई पीढ़ियाँ सम्मिलित हैं। देश के अतिविश्वसनीय प्रकाशन संस्थान, इंडिया नेटबुक्स, नई दिल्ली के निदेशक डॉ. संजीव कुमार ने बताया कि इस संकलन का सम्पादन नई दिल्ली के प्रख्यात व्यंग्यकार लालित्य ललित और शहर के व्यंग्यकार डॉ. हरीशकुमार सिंह करेंगे।
डॉ. संजीव कुमार ने बताया कि उज्जैन शहर के जो व्यंग्यकार इस संकलन में सम्मिलित हैं, उनमें डॉ. पिलकेन्द्र अरोरा, डॉ. देवेंद्र जोशी, संदीप सृजन, राजेन्द्र नागर और डॉ. हरीशकुमार सिंह हैं। संकलन में व्यंग्यकारों की राष्ट्रीय संस्था 'व्यंग्य यात्रा' से जुड़े देश के जो प्रख्यात व्यंग्यकार सम्मिलित हैं उनमें अनिला चड़क, अजय अनुरागी, अजय जोशी, अतुल चतुर्वेदी, अनिता यादव, अनुराग वाजपेयी, अमित श्रीवास्तव, अरविंद तिवारी, अरुण अर्णव खरे, अलका अग्रवाल, अशोक अग्रोही, अशोक व्यास, आत्माराम भाटी, आशीष दशोत्तर, कमलेश पांडे, कुन्दनसिंह परिहार, के.पी. सक्सेना दूसरे, गुरमीत बेदी, चंद्रकांता, जयप्रकाश पांडे, जवाहर चौधरी, टीकाराम साहू, दिलीप तेतरबे, दीपा गुप्ता, देवकिशन पुरोहित, डॉ. देवेंद्र जोशी, निर्मल गुप्त, नीरज दहिया, डॉ. पिलकेन्द्र अरोरा, प्रभात गोस्वामी, प्रमोद तांबट, डॉ. प्रेम जनमेजय, प्रेम विज, बलदेव त्रिपाठी, बुलाकी शर्मा, भरत चंदानी, मलय जैन, मीना अरोरा, मुकेश नेमा, मुकेश राठौर, मृदुल कश्यप, रणविजय राव, रत्न जेसवानी, रमाकांत ताम्रकार, रमेश सैनी, रवि शर्मा, रश्मि चौधरी, राकेश अचल, राजशेखर चौबे, राजेन्द्र नागर, राजेश कुमार, रामविलास जांगिड़, लालित्य ललित, वर्षा रावल, विवेकरंजन श्रीवास्तव, वीना सिंह, वेद माथुर, वेदप्रकाश भारद्वाज, शरद उपाध्याय, श्यामसखा श्याम, संजय जोशी, संजय पुरोहित, संजीव निगम, संदीप सृजन, समीक्षा तेलंग, सुदर्शन वशिष्ठ, सुधीर केवलिया, सुनीता शानू, सुनील सक्सेना, सुषमा व्यास राजनिधि, सूरत ठाकुर, स्वाति श्वेता, हनुमान मुक्त, डॉ. हरीश नवल और डॉ. हरीशकुमार सिंह सम्मिलित हैं। डॉ. संजीवकुमार ने बताया कि इस संकलन 'अब तक 75' का विचार महाकाल की नगरी में ही पिछले दिनों जन्मा था और इसका लोकार्पण भी वरिष्ठ व्यंग्यकार डॉ. प्रेम जनमेजय के आतिथ्य में उज्जैन में ही सम्पन्न होगा।