ALL Event Social Knowledge Career Religion Sports Politics video Astrology Article
गीत संगीत, हंसी ठहाकों के बीच हुआ पानी पतासी भंडारा
November 4, 2019 • अरुण भोपाळे • Event
उज्जैन। सामाजिक संस्था ठहाका सम्मेलन परिवार द्वारा दीपावली मिलन समारोह का आयोजन हुआ, जिसमें गीत संगीत, हंसी ठहाकों की महफिल जमीं तथा पानी पतासी का भंडारा हुआ। 
ठहाका सम्मेलन के संस्थापक संयोजक डॉ. महेन्द्र यादव, हरिसिंह यादव, रवि राय, कवि अशोक भाटी के नेतृत्व में नानाखेड़ा स्थित ठहाका सम्मेलन कार्यालय पर दीपावली मिलन समारोह का आयोजन हुआ। जिसमें शहरवासियों को परिवार सहित आमंत्रित किया गया। समारोह में पानी पतासी भंडारे का आयोजन किया गया जिसमें सैकड़ो महिला, पुरुष एवं बच्चों ने सहभागिता की। 4 घंटे चले इस आयोजन में विभिन्न कलाकारों ने अपनी प्रस्तुतियां दी। कवि अशोक भाटी ने हास्य व्यंग्य की रचनाओं से उपस्थित जनसमुदाय को ठहाकों से सरोबार कर दिया। ज्वलन्त शर्मा, लखन अंबोदिया, लक्ष्मी जोनवाल, सृष्टि साहू, अतुल जोशी, नवीन शर्मा, मोहन नागराज ने संगीतमय प्रस्तुतियां दी। आयोजक डॉ. महेन्द्र यादव ने बताया कि भारतीय त्योहारों के प्रति युवा पीढ़ी में रुझान कम होता जा रहा है। पहले की अपेक्षा अब त्योहारों के प्रति वह उत्साह और उमंग नही दिखाई देता हैं। क्योंकि आज की युवा पीढ़ी पाश्चात्य सभ्यता का अनुसरण कर रही हैं। वेलेंटाइन डे, 31 दिसम्बर और ना जाने कौन कौन से डे के प्रति आकर्षित हो रही। भारतीय संस्कृति एवं त्योहारों के प्रति युवा पीढ़ी में आकर्षण पैदा करने के लिए ठहाका सम्मेलन परिवार द्वारा विभिन्न त्यौहारों को अलग अंदाज में मनाया जाता हैं एवं आमजन उसमे सहभागिता करे यह प्रयास किया जाता हैं। उक्त आयोजन को सफल बनाने में ललित लुल्ला, मनोहर परमार, सत्यार्थ तिवारी, आशीष खंडेलवाल, विजय तिवारी, मनोज तारानी, गोविंद चांदवानी, रोहित चैहान, सुरेन्द्रसिंह ठाकुर, मकसूद पठान, जहीर खान, प्रदीप निगम, प्रभात शर्मा की विशेष भूमिका रही।