ALL Event Social Knowledge Career Religion Sports Politics video Astrology Article
शरद पूर्णिमा के पावन पर्व पर षोडश कलायुक्त चन्द्रमा की अमृत वर्षा करेगी दमा रोग की चिकित्सा
October 12, 2019 • अरुण भोपाळे
उज्जैन। शरद पूर्णिमा की चांदनी रात में होगी अमृत वर्षा। इसी के साथ दमा रोग की चिकित्सा की जाएगी। इंदिरा नगर सहयोगी मित्र मंडल एवं डॉ. प्रकाश जोशी के सौजन्य से शरद पूर्णिमा के पावन पर्व पर दमा रोगियों के लिए नि:शुल्क चिकित्सा शिविर का आयोजन किया जा रहा है। 13 अक्टूबर सायंकाल 6 बजे से इंदिरानगर 172 एलआइजी सेकंड पर आयोजित होगा। शिविर संयोजक डॉ. प्रकाश जोशी ने बताया चिकित्सा शिविर की विशेषता है रोगी को रात भर शिविर स्थल पर रात्रि जागरण अनिवार्य है। बाल भक्त हनुमान मंडल द्वारा रात्रि 8 बजे से सुंदर काण्ड पारायण आयोजित किया जाएगा। प्रात: ब्रह्म मुहूर्त में 4 बजे औषधि युक्त खीर का वितरण किया जाएगा। औषधि खीर पाचन के लिए १०० से ५०० मीटर पैदल चलना अनिवार्य है। तत्पश्चात प्रात: 6 बजे से कर्ण वेधन चिकित्सा प्रारंभ की जाती है। कर्ण वेधन के पश्चात भूख लगने पर एक दिन मूली के पत्तों की सब्जी और रोटी खाना अनिवार्य है तथा १५ दिन तक मूंग की दाल रोटी लेना अनिवार्य है। गुड़, तेल, खटाई का परहेज तीन माह तक करें। आयुर्वेद का मूल सिद्धांत स्वस्थ पुरुष के स्वास्थ्य की रक्षा करना और योगी पुरुष के रोग को दूर करना है। लगातार 24वां चिकित्सा शिविर का आयोजन किया जा रहा है। इस शिविर में अब तक गुजरात, महाराष्ट्र, राजस्थान एवं अन्य प्रदेश के रोगी चिकित्सा सेवा का लाभ ले चुके हैं। असुविधा से बचने के लिए उपचार पूर्व रोगी अपना पंजीयन 0734-2580171 एवं 9406606067 अपना पंजीयन करा सकते हैं। चिकित्सा शिविर को सफल बनाने के लिए आयुर्वेद महाविद्यालय के छात्र-छात्राएं, प्राध्यापकगण, शिविर संयोजक, सहसंयोजक शिवप्रसाद राय, प्रतिमा जोशी, लक्की राय, हरिओम राय, एडवोकेट पुरुषोत्तम राय, वीरेंद्र सिंह परिहार, रमेश शर्मा, ललित नागर, देवेंद्र मेहता, अवनीश नगर, चेतन नगर, मनोज बंसल, यदु बंसल, गोल्डी कपूर एवं रचना शारीर पीजी विभाग के पीजी स्कॉलर ने चिकित्सा शिविर को सफल बनाने के लिए आम जनता से अपील की है कि उक्त चिकित्सा शिविर का अधिक से अधिक लाभ लें।